जीएसटी - भारत
जीएसटी – भारत

श्यामसुंदर को ज्वेलर्स

सीजीएसटी अधिकारियों ने 91 करोड़ रुपये के इनपुट टैक्स क्रेडिट का दावा करने वाली 23 फर्मों के नेटवर्क का भंडाफोड़ किया

पीआईबी दिल्ली द्वारा

विशिष्ट खुफिया जानकारी के आधार पर, केंद्रीय माल और सेवा कर (सीजीएसटी) आयुक्तालय, दिल्ली (पश्चिम) की चोरी-रोधी शाखा के अधिकारियों ने माल रहित चालान के माध्यम से अस्वीकार्य इनपुट टैक्स क्रेडिट (आईटीसी) के लाभ/उपयोग और पारित करने के मामले का पता लगाया 91 करोड़ रुपये (लगभग)। काम करने के तौर-तरीकों में अस्वीकार्य क्रेडिट का लाभ उठाने/उपयोग करने और पारित करने के इरादे से कई फर्मों का फ्लोटिंग शामिल था।

इस नेटवर्क में शामिल फर्मों में मेसर्स गिरधर एंटरप्राइजेज, मेसर्स अरुण सेल्स, मेसर्स अक्षय ट्रेडर्स, मेसर्स श्री पद्मावती एंटरप्राइजेज और 19 अन्य शामिल हैं। इन 23 फर्मों को सरकार को वास्तविक जीएसटी का भुगतान किए बिना धोखाधड़ी वाले आईटीसी को पारित करने के इरादे से माल-रहित चालान बनाने के लिए मंगाया गया था। स्वर्गीय श्री दिनेश गुप्ता, श्री शुभम गुप्ता, श्री विनोद जैन और श्री योगेश गोयल फर्जी चालान बनाने/बेचने के उक्त व्यवसाय से जुड़े थे। ये संस्थाएं विभिन्न वस्तुओं में काम कर रही हैं और रुपये के माल-रहित चालान बनाने में शामिल हैं। 551 करोड़ और अस्वीकार्य आईटीसी पास करने की राशि रु। 91 करोड़ (लगभग)। तीनों आरोपियों ने अपना अपराध स्वीकार करते हुए स्वेच्छा से बयान दिया।

अत: श्री शुभम गुप्ता, श्री विनोद जैन एवं श्री योगेश गोयल ने जानबूझकर सीजीएसटी अधिनियम, 2017 की धारा 132(1)(बी) एवं 132(1)(सी) के तहत अपराध किया जो कि संज्ञेय एवं गैर जमानती अपराध हैं। धारा 132(5) के प्रावधान और उक्त अधिनियम की धारा 132 की उप धारा (1) के खंड (i) के तहत दंडनीय हैं। तदनुसार, उन्हें 10.07.2021 को सीजीएसटी अधिनियम की धारा 132 के तहत गिरफ्तार किया गया और ड्यूटी मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट द्वारा 14 दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। आगे की जांच जारी है।

दिल्ली जोन जीएसटी की चोरी को रोकने के लिए निरंतर प्रयास कर रहा है, जिससे रुपये का पता चला है। चालू वित्त वर्ष में 91.256 करोड़ और इन मामलों में 3 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

विज्ञापनों
आईबीजीन्यूजकोविड सर्विस

.

Today News is CGST officials bust network of 23 firms for claiming input tax credit of Rs 91 crore i Hop You Like Our Posts So Please Share This Post.


Post a Comment

close