अंतिम बार अपडेट 17 जुलाई, 2021 को रात 9:36 बजे

उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने सर्दी के मौसम के मद्देनजर बिजली विकास विभाग द्वारा की गई अग्रिम तैयारियों की निगरानी के लिए आज पीडीडी की शीतकालीन तैयारियों की कार्य योजना की समीक्षा के लिए एक बैठक की अध्यक्षता की।

चरम मौसम की स्थिति के लिए बिजली का बुनियादी ढांचा तैयार होना चाहिए, इसके अलावा सर्दियों की बिजली की मांग को पूरा करने के लिए जमीनी स्तर पर सक्रिय कदम उठाने की जरूरत है। बिजली पारेषण, वितरण में सभी कमियों को अक्टूबर तक पूरा किया जाना चाहिए, उपराज्यपाल ने अधिकारियों को निर्देश दिया।

पीडीडी की शीतकालीन तैयारियों को लेकर उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने की उच्च बैठक

उपराज्यपाल ने कई बिजली वृद्धि परियोजनाओं की समयसीमा इस साल अक्टूबर तक बढ़ा दी और सर्दियों के मौसम के आने से पहले सभी खरीद करने का निर्देश दिया।

साथ में पिछले वर्षों के अनुभव ले लो। सर्दियों के दौरान लोगों को निर्बाध बिजली आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए बहुआयामी रणनीति बनाते समय उच्च भार वाले क्षेत्रों को प्राथमिकता दें और स्थलाकृति को ध्यान में रखें। उपराज्यपाल ने अधिकारियों को बताया कि केंद्र शासित प्रदेश के दोनों डिवीजनों के बर्फीले, दूरदराज और दुर्गम क्षेत्रों में बिजली आपूर्ति के लिए आगे की योजना बनाएं।

लोगों की जरूरतों को पूरा करने पर विशेष जोर देते हुए, उपराज्यपाल ने बिजली विभाग को बिजली आपूर्ति और मांग के अंतर को भरने के लिए पारेषण और वितरण क्षमता बढ़ाने का निर्देश दिया।

गुरेज, माछिल और तुलैल जैसे कठिन इलाकों में रहने वाले ग्रिड बिजली के साथ बस्तियों तक पहुंचने के लिए एक व्यापक योजना प्रस्तुत करने के निर्देश भी पारित किए गए।

उपराज्यपाल ने अधिकारियों को परियोजनाओं को तेजी से पूरा करने के लिए अभिसरण मोड में काम करने का निर्देश दिया। तकनीकी मूल्यांकन और प्रशासनिक अनुमोदन में देरी नहीं की जाएगी। उपराज्यपाल ने कहा कि जनता के व्यापक हित के लिए प्रतिबद्ध समयसीमा और लक्ष्यों को अक्षरश: पूरा किया जाना चाहिए।

दिलचस्प बात यह है कि मुख्य अभियंता, (वितरण) जेपीडीसीएल, जम्मू ने बताया कि बीएचईपी के चंद्रकोट ग्रिड स्टेशन की बिजली आपूर्ति 18 जुलाई को सुबह 7 बजे से दोपहर 12 बजे तक प्रभावित रहेगी।

इसी प्रकार 150एमवीए 132/66केवी ग्रिड स्टेशन कठुआ से सभी क्षेत्रों में बिजली आपूर्ति 18 जुलाई को सुबह 6 बजे से 10 बजे तक प्रभावित रहेगी।

इसी तरह 18 जुलाई को सुबह सात बजे से 11 बजे तक मीरान साहिब और उसके आसपास के इलाकों में बिजली आपूर्ति प्रभावित रहेगी.

अधीक्षण अभियंता (वितरण) जेपीडीसीएल ओ एंड एम सर्कल कठुआ ने बताया है कि 18, 19 और 20 जुलाई को सुबह 6.30 बजे से 9.30 बजे तक बूढ़ी, पीएचई और रेलवे को बिजली आपूर्ति प्रभावित रहेगी.

इसी तरह 18, 19 व 20 जुलाई को अपराह्न तीन बजे से आठ बजे तक अबताल, सदोह, कैंक, रैयान, खानवाल और पचटीला की बिजली आपूर्ति प्रभावित रहेगी.

Today News is As Jammu sweats in dark, Govt prepares for power supply in Kashmir in winters i Hop You Like Our Posts So Please Share This Post.


Post a Comment

close